Rescue from incurable disease

Rescue from incurable disease
लाइलाज बीमारी से मुक्ति उपाय है - आयुर्वेद और पंचकर्म चिकित्सा |
  • Home
  • Contact Us
  • About Me
  • Q & A
  • Article's स्वास्थ्य लेख
  • Panchakarma(पंचकर्म)
  • Common Article
  • Specific article (विशेष लेख)
  • VIDEO
  • Rescue from incurable disease, -The Ayurveda and Panchakarma therapy.

    लाइलाज बीमारी से मुक्ति उपाय है - आयुर्वेद और पंचकर्म चिकित्सा |
    च्यवन ऋषि कैसे हुए थे युवा?
    हमारे पौराणिक आयुर्वेद इतिहास में एक सन्दर्भ आता है की, च्यवन ऋषि कमजोर, हो गए थे| वे भी इतने अधिक कि चलना फिरना तो दूर की बात है, खड़े होना भी मुश्किल था| रोग ग्रस्त, कमजोर नपुंसकता का शिकार शरीर उन्हें भार जैसा प्रतीत होता था|
    एसे में ऋषिबंधू अश्वनी कुमारों ने उन्हें पुन: युवा बना दिया| जिस रसायन का सेवन कराया गया था वह च्यवन प्राश के नाम से विख्यात हुआ|
    परन्तु ऋषियों ने उनके शरीर को जिस प्रक्रिया से निरोगी और रसायन सेवन के योग्य बनाया था, वह प्रक्रिया थी, “संशोधन”|
    वैज्ञानिक पद्धत्ति है यह इसके प्रणेता हैं आचार्य चरक|

    आचार्य चरक आदि ऋषियों ने इस प्रक्रिया को सर्व सुलभ कर इसके माध्यम से चिकित्सा जगत में क्रांति ला दी थी| कालांतर में वर्षो की गुलामी और विदेशियों की अधीनता ने हमारी इस चिकित्सा पधात्ति को भुला दिया था|
    आजादी के पश्चात् इस भुला दी गई चिकित्सा पद्धत्ति जिससे शरीर को सभी रोगों से मुक्त कर नवयोवन दिया जाना संभव होता है, पुन: सबका कल्याण करने उपस्थित हो गई है| इस पंचकर्म चिकित्सा पद्ध्ति ने आज विश्व में हमारे देश को नई पहचान दी है,
    उज्जैन में उपलब्ध है|
    हर व्यक्ति चाहता है, निरोगी शरीर, कष्टों से मुक्ति, जीने का उत्साह, और अब हमारे वात्सल्यओषधालय एम् आई जी 4/1 प्रगति नगर उज्जैन मप्र (INDIA) [Contect Us] में भी मध्यम वर्गीय क्षमता पर सामान्य शुल्क पर अब यह उपलब्ध है|
    हमारे वात्सल्य ओषधालय में आयुर्वेद चिकित्सा सेवा सहित, सम्पूर्ण पंचकर्म जिसके माध्यम से एसे किसी भी रोग जिन्हें कोई चिकित्सा पद्ध्ति ठीक नहीं कर पाती, ठीक कर रोगी को पुन जैसे नया शरीर प्रदान किया जा रहा है|
    घुटना बदलने की कष्ट पूर्ण सर्जरी की जरुरत नहीं!
    इस ओषधालय में कम्पवात, लकवा से कमजोर अंगों में पुन: सक्रियता, अर्थराइटिस, आदि वात रोग तो ठीक किये ही जा सकेंगे वरन, जोड़ों के कष्ट जैसे रोग में  अब घुटना बदलने की कष्ट पूर्ण सर्जरी की जरुरत नहीं होगी|
    मोटापा, श्वास, अमिबिओसिसी, लीवर की खराबी, एसिडिटी, संग्रहणी, जैसे रोग से हमेशा के लिए मुक्ति
    हम पंचकर्म के माध्यम से अति सामान्य शुल्क जो देश की किसी भी पंचकर्म केंद्र से अत्यधिक कम हें, पर करने के लिए तत्पर हें|
    बाल पकना, झड़ना, मुहांसे, चर्म रोग, और सोराइसिस जैसा जिद्दी रोग, जो ठीक होने का नाम ही नहीं लेता की चिकित्सा इस संशोधन से यहाँ की जाती है|

    नपुंसकता आदि सेक्स डिसीज-
    पंचकर्म के माध्यम से आसानी से ठीक हो सकने वाले सेक्स रोग, जैसे ध्वज भंग, नपुंसकता से शर्मिंदा होना आवश्यक नहीं, बन्ध्यत्व या सन्तानहीनता, आदि इन सबके लिए लूटमार करने वाले हकीमों और तथाकथित सेक्सोलोजिस्ट के पास जाने की जरुरत नहीं|
    प्रसव पश्चात् शरीर का बेढोल मोटापे, की समस्या से, बिना किसी विशेष व्यायाम आदि को बाध्य किये आसानी से मुक्ति मिल सकेगी|
    मानसिक रोगों का इलाज भी है यहाँ|
    चिंता, तनाव, स्मरण शक्ति में कमी, माइग्रेन, नींद न आना, कम उम्र में बुडापा, आदि की चिकित्सा सारे जगत में आयुर्वेद में ही है, जो पंचकर्म के द्वारा कम व्यय पर अधिक आसानी से की जा सकती है| 
    डाइविटीज-2 को बडने से रोक और नियंत्रित कर सकते हें|
    डाइविटीज, केंसर, जैसे रोगों को प्रारंभिक अवस्था में संशोधन से आसानी से रोका जा सकता है| इससे किमोथेरेपी के बाद उसके दुष्परिणामों दूर कर नवजीवन भी दिया जा सकता है| 
    हमारे यहाँ न केवल रोगियों के कष्टों को दूर किया जाता है साथ ही अन्य नए चिकित्सको को हमारा अनुभव प्रदान किया जाता रहा है, चिकित्सा सहायता प्रेक्टिकल पंचकर्म आदि के लिए चिकित्सक सम्पर्क कर सकते हें|    
    Take a appointment for counseling or therapy. परामर्श या चिकित्सा हेतु पूर्व समय अवश्य लें|
    Consultation on the phone is not available. फोन पर परामर्श नहीं दिया जाता|
    डॉ. मधु सूदन व्यास B.A.M.S. I.U.
    पूर्व जिला आयुष अधिकारी उज्जैन, अधीक्षक शास. धन.आयुर्वेद महाविद्यालय उज्जैन मप्र . वात्सल्य ओषधालय MIG 4/1 प्रगति नगर उज्जैन मप्र. 09425379102/ 07342519707/ Mail- healthforalldrvyas@gmail.com
    -----------------------------------------------------------------
    समस्त चिकित्सकीय सलाह रोग निदान एवं चिकित्सा की जानकारी ज्ञान(शिक्षण) उद्देश्य से हे| प्राधिकृत चिकित्सक से संपर्क के बाद ही प्रयोग में लें| आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल/ जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें। इसका प्रकाशन जन हित में किया जा रहा है।
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    स्वास्थ /रोग विषयक प्रश्न यहाँ दर्ज कर सकते हें|

    स्वास्थ है हमारा अधिकार

    हमारा लक्ष्य सामान्य जन से लेकर प्रत्येक विशिष्ट जन को समग्र स्वस्थ्य का लाभ पहुँचाना है| पंचकर्म सहित आयुर्वेद चिकित्सा, स्वास्थय हेतु लाभकारी लेख, इच्छित को स्वास्थ्य प्रशिक्षण, और स्वास्थ्य विषयक जन जागरण करना है| आयुर्वेदिक चिकित्सा – यह आयुर्वेद विज्ञानं के रूप में विश्व की पुरातन चिकित्सा पद्ध्ति है, जो ‘समग्र शरीर’ (अर्थात शरीर, मन और आत्मा) को स्वस्थ्य करती है|

    चिकित्सक सहयोगी बने:
    - हमारे यहाँ देश भर से रोगी चिकित्सा परामर्श हेतु आते हैं,या परामर्श करते हें, सभी का उज्जैन आना अक्सर धन, समय आदि कारणों से संभव नहीं हो पाता, एसी स्थिति में आप हमारे सहयोगी बन सकते हें| यदि आप पंजीकृत आयुर्वेद स्नातक (न्यूनतम) हें! आप पंचकर्म केंद्र अथवा पंचकर्म और आयुर्वेदिक चिकित्सा प्रक्रियाओं जैसे अर्श- क्षार सूत्र, रक्त मोक्षण, अग्निकर्म, वमन, विरेचन, बस्ती, या शिरोधारा जैसे विशिष्ट स्नेहनादी माध्यम से चिकित्सा कार्य करते हें, तो आप संपर्क कर सकते हें| 9425379102/ mail- healthforalldrvyas@gmail.com केवल परामर्श चिकित्सा कार्य करने वाले चिकित्सक सम्पर्क न करें|